उत्तराखंड- चारधाम यात्रियों के लिए सलाह: गर्म कपड़े साथ लेकर आएं, मौसम पूर्वानुमान और रखें यह ध्यान

ख़बर शेयर करें –

Dehradun ,Uttarakhand Chardham yatra-2023:

गंगोत्री-यमुनोत्री धामों के कपाट खुलने के साथ ही प्रदेश में चारधाम यात्रा का श्रीगणेश हो गया है। 25 अप्रैल को श्री केदारनाथ धाम के कपाट भी श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे।

श्री केदारनाथ धाम में गत दिनों से हो रही बारिश-बर्फबारी के मद्देनजर श्रद्धालुओं से आग्रह है कि वे मौसम के मद्देनजर संभल कर और मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार यात्रा प्रारंभ करें।

विदित हो कि श्री केदारनाथ धाम में रुक-रुक कर बारिश एवं बर्फबारी जारी है। देश एवं विदेश से श्री केदारनाथ धाम आने वाले समस्त श्रद्धालुओं को सूचित किया जाता है कि श्री केदारनाथ धाम जाने से पहले मौसम का पूर्वानुमान देखें।

बारिश एवं ठंड से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में गर्म कपड़े लेकर आएं। बर्फबारी एवं अत्यंत ठंड होने के कारण यात्रा के दौरान तमाम तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। सभी यात्रा मार्गों पर स्वास्थ्य संबंधी पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं।

यात्री यात्रा प्रारंभ करने या यात्रा के दौरान स्वास्थ्य बिगड़ने पर तत्काल नजदीकी हेल्थ सेंटर पर जाकर चिकित्सक से परामर्श भी ले सकते हैं। सुगम, सुरक्षित और निर्बाध यात्रा सम्पन्न कराने के लिए राज्य सरकार कटिबद्ध है। यात्रा व्यवस्थाओं की नियमित रूप से उच्च स्तर से मॉनिटरिंग की जा रही है।
Uttarakhand Chardham yatra

  • ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

यात्रियों को चार धाम यात्रा पर जाने के लिए उत्तराखंड के पर्यटन विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट registrationandtouristcare.uk.gov.in पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। ध्यान दें सरकार द्वारा यात्रा ई-पास की व्यवस्था अब समाप्त कर दी गई है। सभी यात्री बिना यात्रा ई-पास के सिर्फ रजिस्ट्रेशन कर Char Dham Yatra चार धाम यात्रा कर सकते है। उत्तराखंड के स्थायी निवासियों को स्मार्ट सिटी पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराने की आवश्यकता नहीं है। वो बिना किसी प्रकार के ई पास या पंजीकरण के यात्रा कर सकते हैं। चार धाम यात्रा पंजीकरण की आवश्यकता सिर्फ उत्तराखंड से बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को होगी। Uttarakhand Chardham yatra

  • प्रतिदिन दर्शन का कोटा खत्म

चारों धामों में अब कितने भी यात्री दर्शन कर सकेंगे। अब प्रतिदिन दर्शन का कोटा खत्म कर दिया गया है। इस संबंध में शासन की ओर से आदेश जारी कर दिए गए हैं। फैसले के बाद पुरोहित महासभा अध्यक्ष पुरुषोत्तम उनियाल सहित चारधाम यात्रा से जुड़े लोगों ने चारधाम यात्रा में सीमित संख्या की बाध्यता समाप्त करने पर खुशी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री का आभार जताया।
Uttarakhand Chardham yatra

  • स्वास्थ्य विभाग ने जारी की एडवाइजरी ,इन बातों का रखें ध्यान

देहरादून। चार धाम यात्रा 22 अप्रैल से शुरू हो गई है। उससे पहले राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने तीर्थयात्रियों के लिए एक स्वास्थ्य सलाह जारी की है। स्वास्थ्य विभाग सचिव डॉ आर राजेश कुमार ने चार धाम की यात्रा करने जा रहे लोगों की सुरक्षा के मद्देनजर ये कदम उठाया है। दिशानिर्देशों के मुताबिक, क्योंकि सभी तीर्थ स्थल उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थापित हैं और समुद्र तल से 2,700 मीटर से अधिक की ऊंचाई पर होंगे, ऐसे में संभावना है कि यात्री कम ह्यूमिडिटी, अत्यधिक ठंड, कम ऑक्सीजन और कम हवा का दबाव से प्रभावित हो सकते हैं।

इसके अलावा, सरकार द्वारा जारी कुछ दिशा-निर्देशों में यात्रा के लिए निकलने से पहले पूरी तरह से स्वास्थ्य जांच करवाना होगा। पहले से मौजूद बीमारियों वाले लोगों को सलाह दी जाती है कि वे डॉक्टर द्वारा सुझाए गए दवाओं की पर्याप्त मात्रा और अपने संबंधित चिकित्सकों के संपर्क को विवरण साथ रखें। इसके अलावा, सभी लोगों और वरिष्ठ नागरिकों, जो पहले से ही बीमार हैं, या जो COVID-19 से पीड़ित थे, सरकार ने उनसे तीर्थ यात्रा को स्थगित करने या बिल्कुल भी नहीं करने पर विचार करने के लिए कहा है।

सरकारी स्वास्थ्य सलाह में आगे कहा गया है कि, सांस की बीमारियों, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज से पीड़ित रोगियों को अधिक ऊंचाई पर यात्रा करते समय अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए। यात्रा के दौरान, जो लोग बीमार महसूस करते हैं, सिरदर्द, मतली जैसे लक्षण और उनींदापन का अनुभव करते हैं, उन्हें तत्काल चिकित्सा सहायता लेने की सलाह दी जाती है।

एडवाइजरी में लोगों को शराब और अन्य नशीले पदार्थों के सेवन से बचने और धूम्रपान से परहेज करने की भी सलाह दी गई है। साथ ही, उन्हें खुद को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखने और खाली पेट यात्रा करने से बचने की भी सलाह दी जाती है। राष्ट्रीय एम्बुलेंस सेवा के बारे में अधिक जानकारी देते हुए एडवाइजरी में कहा गया है कि आपात स्थिति में हेल्पलाइन नंबर – 108, राष्ट्रीय एम्बुलेंस सेवा और 104, उत्तराखंड स्वास्थ्य हेल्पलाइन से संपर्क किया जा सकता है।Uttarakhand Chardham yatra-2023

  • केदारनाथ धाम में 7 दिन ऐसा रहेगा मौसम ,देखें पूर्वानुमान

Uttarakhand Chardham yatra-2023

Leave a Reply