हल्द्वानी- शहर को अतिक्रमण मुक्त करने की मुहिम जारी , इन इलाकों में गरजी जेसीबी

ख़बर शेयर करें –

Haldwani News: हल्द्वानी शहर को अतिक्रमण मुक्त किए जाने को लेकर निगम प्रशासन की मुहिम शुक्रवार को भी जारी रही। नगर निगम और प्रशासन टीम ने संयुक्त रूप से सिंधी चौराहे से मंगलवार क्षेत्र और लाइन नंबर एक में अतिक्रमण हटाया गया। इस दौरान कई अवैध फड़ भी देखे, जिनका सामान जब्त किया गया, और कड़ी चेतावनी देकर दोबारा दुकानें न लगाने की चेतावनी दी। वहीं कई ऐसे दुकानदार भी दिखे जिन्होंने अपनी दुकान के बाहर सामान रखने के लिए पक्का निर्माण भी कराया है, उन्हें जेसीबी के माध्यम से तोड़ा गया। बता दें कि नगर निगम प्रशासन ने अतिक्रमणकारियों को दो दिन की मोहलत दी थी कि जिस किसी ने भी अतिक्रमण किया उसे वह स्वयं हटा ले।

अतिक्रमणकारियों को दिया गया निर्धारित समय शुक्रवार को समाप्त हो गया और जिसके बाद नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय व सिटी मजिस्टेªट ऋचा सिंह के नेतृत्व में नगर निगम और प्रशासन की संयुक्त टीम दोपहर तीन बजे सिंधी चौराहे के पास पहुंची और जिसके बाद टीम ने सिंधी चौराहा, मंगलपड़ाव और लाइन नंबर एक पहुंचकर अतिक्रमणकारियों को हटाया गया।

इसी बीच अतिक्रमणकारियों व प्रशासन के बीच काफी नोंकझोक भी हुई। लेकिन भारी नोंकझोंक के बीच प्रशासन की कार्रवाई जारी रही। वहीं कई ऐसे दुकानदार भी दिखे जिन्होंने अपनी दुकान के बाहर सामान रखने के लिए पक्का निर्माण भी कराया है, उन्हें जेसीबी के माध्यम से तोड़ा गया। इसके अलावा नगर निगम द्वारा हिदायत दी गई कि अपने क्षेत्र में ही व्यापार करें अन्यथा आगे भी ऐसी ही कार्यवाही होगी। अभियान के दौरान पाया गया कि लाइन नंबर एक में तो कई लोगों ने नगर निगम के नाले के ऊपर ही पक्के निर्माण कराए हैं, जिन्हें जेसीबी के माध्यम से तोड़ दिया गया।

वहीं कुछ घर और कॉंप्लेक्स ऐसे भी थे, जो नाले के ऊपर बने थे जिसे मौके पर ही तोड़ने के आदेश दिए गए। इसी के साथ नगर निगम और प्रशासन ने कुछ ऐसे घर और दुकाने भी चिन्हित किए जहां नाले के ऊपर बड़ा निर्माण भी कराया है और ऐसे में उन्हें एक हफ्ते का समय दिया गया।

इधर नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने कहा कि अतिक्रमण किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा साथ ही सभी अतिक्रमणकारियों को पूर्व में भी मोहलत दी जा चुकी थी जिन्होंने अतिक्रमण किया है वह स्वयं अतिक्रमण को हटा ले। उन्होंने बताया अतिक्रमण अभियान इसी तरह आगे भी जारी रहेगा। उन्होंने कहा एक परिवार से केवल एक ही फल विक्रेता को लाइसेंस मिलेगा, अगर कोई ठेकेदार बीच में लिप्त पाया जाता है तो उसके खिलापफ भी संख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

अभियान के दौरान नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह, कोतवाल हरेंद्र चौधरी, मंगलपड़ाव चौकी प्रभारी सहित नगर निगम व प्रशासन की संयुक्त टीम मौजूद रही।

Leave a Reply