हल्द्वानी अपडेट: सेक्स रैकेट की सरगना तान्या शेख ने उगले चौंकाने वाले राज , पुलिस के रडार पर आए–

ख़बर शेयर करें –

Haldwani News: शहर में सेक्स रैकेट का संचालन कर रही मानव तस्करी की सरगना तान्या शेख आखिरकार पुलिस की गिरफ्त में आ गई। पूछताछ में उसने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। मानव तस्करी के धंधे में शहर के तीन होटलों की संलिप्तता मिली है, जबकि तान्या शेख सहित तीन महिलाएं और तीन पुरुष इस धंधे में शामिल रहे हैं। बताया जा रहा है उक्त होटल स्वामियों के अलावा कई अन्य पुलिस के रडार पर आए हैं जल्दी ही पुलिस इस मामले में बड़ा खुलासा कर सकती है।

शुक्रवार को बहुउद्देशीय भवन में एसएसपी पंकज भट्ट ने मानव तस्करी गिरोह का खुलासा किया। बताया कि पश्चिम बंगाल निवासी तान्या शेख कुमाऊं में बैठकर जिस्मफरोशी का धंधा चला रही थी। इसके लिए तान्या ने हल्द्वानी, नैनीताल, ऊधमसिंहनगर और काशीपुर के छोटे होटल संचालकों को अपनी गैंग में शामिल किया, जिससे आम लोगों और पुलिस को उन पर शक न हो। यहां बिना आईडी के ग्राहकों को एंट्री दी जाती थी। पहचान का झमेला नहीं होने से ग्राहक भी इन होटलों में आना पसंद करने लगे। इससे कुछ ही समय में तान्या शेख का नाबालिग लड़कियों की सप्लाई का खेल धड़ल्ले से चलने लगा। पहली कार्रवाई में पुलिस खानचंद मार्केट स्थित होटल मिनी पैराडाइज और काठगोदाम स्थित होटल कपीस और मल्लिका के खिलाफ जांच कर रही है। बताया जा रहा है कि तान्या के कई अन्य होटलों में भी अपने संपर्क हैं, जिनकी जांच पुलिस कर रही है। एसएसपी ने टीम को पांच हजार रुपये इनाम की घोषणा की है।

सभी के लिए बांटी थी जिम्मेदारी

पूछताछ में सामने आया है कि तान्या शेख निवासी 24 परगना बसंती सोना कांची पश्चिम बंगाल अपने गुर्गे रज्जक पाइक निवासी दक्षिण राईपुर पंश्चिम बंगाल की मदद से पश्चिम बंगाल से यहां लड़कियां पहुंचाती थी। दूसरे आरोपी नौशाद निवासी कालका नई दिल्ली को होटलों तक लड़कियां पहुंचाने की जिम्मेदारी थी, जबकि मुकेश कुमार व उसकी पत्नी उमा निवासी देवनगर दमुवाढूंगा की जिम्मेदारी ग्राहक खोजने की थी। पूरे मामले की छठी आरोपी रंजिता उर्फ पलक निवासी दिनेशपुर को उधमसिंहनगर की जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

स्पा सेंटर वर्कर से बनी वेबसाइट होल्डर

पुलिस के मुताबिक तान्या शेख ने हल्द्वानी में एक स्पा सेंटर में काम कर अपना नेटवर्क बनाना शुरू किया। कुछ ही साल में उसके संपर्क हल्द्वानी व रुद्रपुर के बड़े-बड़े रसूखदारों के साथ बन गए। इसके बाद तान्या पश्चिम बंगाल से नाबालिग लड़कियों की सप्लाई का धंधा जमा लिया। अब तान्या वेबसाइट से पूरा नेटवर्क चलाती है, जिससे उसके फंसने के चांस कम हो।

मुखानी थाने में पहले भी दर्ज है मुकदमा

बताया जा रहा है कि तान्या शेख के खिलाफ इससे पहले भी मुखानी थाने में मुकदमा दर्ज है। बताया जा रहा है कि पिछले साल ऊंचापुल के पास तान्या को छह लड़कियों के साथ पकड़ा गया था, लेकिन पुख्ता सबूत नहीं होने से उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं हो पाई थी।

यह रहा पूरा घटनाक्रम

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now
Instagram Group Join Now

15 मई को पश्चिम बंगाल के बसंती थाना पुलिस को नाबालिग के हल्द्वानी में होने का इनपुट मिला। देर रात नाबालिग को रज्जक पाइप के पास से बरामद कर लिया गया। देर रात भवन स्वामी पर पुलिस के साथ मारपीट का आरोप लगा, जिसके बाद पुलिस ने परिवार के तीन पुरुषों और तीन महिलाओं के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया। रज्जक पाइप और नाबालिग से पूछताछ के बाद पुलिस मुख्य आरोपी तान्या शेख की गिरफ्तारी में जुट गई। 17 मई को होटल स्वामी की पत्नी उमा पुलिस के हाथ लगी। 18 मई को होटल स्वामी मुकेश कुमार को दबोचा। इसी दिन तान्या शेख को ऊधमसिंहनगर के एक होटल से बरामद किया गया।

नौ माह तक फंसी रही एक महिला

पुलिस पूछताछ में सामने आई एक महिला ने बताया कि तान्या शेख ने नौ माह तक उसे अलग-अलग होटलों में बेचा। तान्या से परेशान होकर उसने मिनी पैराडाइज होटल की उमा के साथ काम करने का निर्णय लिया। उमा और मुकेश कुमार ने बताया कि तान्या लड़कियों को नशे के इंजेक्शन देकर होटल भेजती थी।

कोट

पश्चिम बंगाल पुलिस के इनपुट के बाद हल्द्वानी पुलिस ने नेटवर्क का खुलासा किया है। प्रकरण में तान्या शेख सहित छह के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। जांच में सामने आया है कि होटल मिनी पैराडाइज, कपीस और मल्लिका की भागीदारी सामने आई है। यह प्राथमिक जांच है। जल्द अन्य के नामों का खुलासा होगा।

पंकज भट्ट, एसएसपी नैनीताल

Leave a Reply