मॉक ड्रिल- मसूरी रोपवे में ट्रॉली में फंसी जान, SDRF ने किया रेस्क्यू , video

ख़बर शेयर करें –

देहरादून। एसडीआरएफ द्वारा अपनी रेस्क्यू दक्षता में उत्तरोत्तर वृद्धि हेतु समय-समय पर जनपद एवं राज्य स्तर पर विभिन्न आपदाओं सम्बन्धी मॉक अभ्यास सतत रूप से कराये जाते रहे हैं व अन्य इकाइयों द्वारा आयोजित की जाने वाली मॉक ड्रिल में भी प्रतिभाग किया जाता है।

आज दिनाँक 12 मई 2023 को जनपद देहरादून के मसूरी में रोपवे पर ट्रॉली फंसने की घटना की मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। विगत वर्ष झारखण्ड राज्य के देवघर में त्रिकूट पहाड़ रोपवे हादसा अत्यंत दुखद था। उक्त दुर्घटना के उपरान्त अपने प्रदेश में इस प्रकार की घटनाओं के न्यूनीकरण हेतु समय समय पर मॉक ड्रिल आयोजित की जाती रही है, जिसमे SDRF द्वारा प्रतिभाग कर अपनी कार्यदक्षता एवम कुशलता को निरन्तर बढ़ाया जाता है। आज रोपवे मॉक ड्रिल मसूरी रोपवे पर आयोजित की गई। मॉक ड्रिल में SDRF द्वारा अन्य बचाव इकाइयों जैसे- NDRF, ITBP, सिविल पुलिस, फायर सर्विस, नगर निगम, स्वास्थ्य विभाग इत्यादि के साथ समन्वय स्थापित कर राहत एवं बचाव कार्य का अभ्यास किया गया।

SDRF टीम के जवानों द्वारा रोप रेस्क्यू की विभिन्न तकनीकों का प्रयोग करते हुए रोपवे पर बीच में अटकी ट्रॉली तक अपनी पहुँच बनाई व ट्रॉली में सवार 04 लोगों को एक-एक रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थान पर पहुँचाया।

मॉक ड्रिल का उद्देश्य इस प्रकार की घटना में प्रतिवादन व पूर्व तैयारी करना था, जिससे ऐसी घटनाओं में कम से कम समय में त्वरित प्रतिवादन कर जान-माल की हानि का न्यूनीकरण किया जा सके साथ ही अन्य बचाव इकाईयों के साथ समन्वय स्थापित करते हुए रेस्क्यू कार्य में निपुणता व कुशलतापूर्वक कार्य किया जा सके। विगत दिनों राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण के दिशा-निर्देशन में सम्पन्न हुई घटना प्रत्योत्तर प्रणाली (IRS) सम्बन्धी राज्य स्तरीय मॉक ड्रिल में भी एसडीआरएफ टीमों द्वारा प्रतिभाग किया गया, जिसमें एनडीएमए के सदस्यों द्वारा एसडीआरएफ की कार्यप्रणाली की प्रशंसा की गई थी।

SDRF टीम का विवरण:-

  1. ASI विरेन्द्र प्रसाद काला
  2. HC मनोज जोशी
  3. LFM रवि चौहान
  4. HC सुशील कुमार
  5. HC दीपक पंत
  6. पेरामेडिक्स दीपक रमोला

Leave a Reply