उत्तराखंड- यहां अवैध अतिक्रमण पर गरज रहे बुलडोजर , पूर्व विधायक समेत कई नेता हिरासत में

ख़बर शेयर करें –

Udham Singh Nagar News: उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले से बड़ी खबर सामने आ रही है, यहां रुद्रपुर में भारी पुलिस बल के बीच शुक्रवार को रोडवेज के सामने अवैध दुकानों को प्रशासन ने ध्वस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी। वहीं व्यापारी नेताओं को देर रात नजरबंद कर लिया गया है। साथ ही पूर्व विधायक राजकुमार ठुकराल और उनके भाई संजय ठुकराल को वैशाली स्थित घर से गिरफ्तार किया गया है।

शुक्रवार की सुबह राममनोहर लोहिया स्थित दुकानों को ध्वस्त करने के लिए भारी संख्या में पुलिस अफसर व कर्मी पहुंच गए। एसडीआरएफ की भी टीम भी पहुंची। करीब साढ़े सात बजे से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू कर दी गई। मार्केट में मौजूद ठेलों को पुलिस ने हटाया। डीडी चौक से इंदिरा चौक तक मार्ग को बैरिकेडिंग लगाकर वनवे कर दिया गया। यातायात व्यवस्था बनाये रखने के लिए रुट डायवर्ट कर दिया गया है। कुछ दुकानदार खुद सामान समेटने लगे।

जैसा कि संभवना व्यक्त की जा रही थी कि विधानसभा का बजट सत्र समाप्त होते ही प्रशासन द्वारा डीडी चौक से इन्द्रा चौक तक मुख्य मार्ग के दोनों ओर दुकानों को ध्वस्त कर दिया जायेगा। सही साबित हुई आज प्रातः से ही पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के निर्देश पर विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों ने आधा दर्जन से अधिक जेसीबी मशीनों की मदद से दुकानों को तोड़ने का काम शुरू कर दिया। इससे पूर्व प्रशासन द्वारा गत रात्रि को ही नगर में धारा 144 लगा दी गई थी।साथ ही व्यापारियों के भारी विरोध की संभावना को देखते हुए न सिर्फ जनपद उधमसिंहनगर बल्कि पड़ोसी जनपदों से भी भारी संख्या में पुलिस बल बुलाकर मुख्य स्थानों पर तैनात कर दिया गया था। इतना ही नहीं प्रशासन ने कई व्यापारियों व विरोधी दल के कुछ नेताओं को भी आज तड़के ही उनके घरों से उठा लिया था।

आज सुबह लगभग आठ बजे एसएसपी मंजूनाथ टीसी के साथ एसडीएम प्रत्यूष कुमार सिंह व अन्य कई पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी रोडवेज के सामने पहुंचे और उनकेे निर्देश पर राममनोहर लोहिया मार्केट की दुकानों के ध्वस्तीकरण का काम शुरू कर दिया गया।

अतिक्रमण ध्वस्तीकरण दौरान किच्छा बाईपास रोड़, गांधी पार्क के चारों ओर, डीडी चौक से इन्द्रा चौक रोडवेज स्टेशन, सुपर मार्केट, काशीपुर बाईपास रोड़़ पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात किया गया था। डीडी चौक से इन्द्रा चौक तक यातायात भी डायवर्ट किया गया ।

व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय जुनेजा, किच्छा विधायक तिलकराज बेहड़ के बेटे गौरव बेहड़ को पुलिस ने हिरासत में लेकर पंतनगर थाने में बैठाया। वहीं, पूर्व पालिकाध्यक्ष मीना शर्मा, कांग्रेस महानगर अध्यक्ष जगदीश तनेजा और कांग्रेस नेता अनिल शर्मा को भी हिरासत में लिया। पूर्व विधायक राजकुमार ठुकराल और उनके भाई संजय ठुकराल को भी हिरासत ले लिया गया। एसएसपी मंजूनाथ टीसी और एसपी सिटी मनोज कत्याल सहित अन्य अधिकारी वहां पहुंच गए। उन्होंने बताया कि शहर के करीब पांच व्यापारी नेता व जनप्रतिनिधियों को नजरबंद किया गया है।

एसएसपी का कहना है कि एनएच 87 के अधिग्रहण की जद में आई जमीन को खाली कराया जाएगा और जो अवैध निर्माण हैं उनको हटाया जाएगा। इस पूरी कार्यवाई के लिए धारा 144 लागू की गई है। इस कार्यवाई को करने के लिए दूसरे जिलों से फोर्स मंगाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रशासन कष्ट के समय वे व्यापारियों के साथ है। प्रभावित व्यापारियों को दूसरी जगह बसाने में मदद की जाएगी।

पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी स्थिति पर पैनी नजर रखे रहे। अपनी दशकों पुरानी दुकानों को टूटते देख कई व्यापारियों की आंखों में आंसू छलकते रहे। प्रशासन द्वारा गत रात्रि दुकानें खाली करने की पुनः मुनादी करने के बाद दुकानदारों द्वारा अपनी दुकानों से सारा सामान निकाल लिया गया था। दुकानों के ध्वस्तीकरण का काम जारी है।


Leave a Reply